इमरान खान ने कहा- नवाज से कोई दुश्मनी नहीं, सियासत से ज्यादा उनकी सेहत अहम



इस्लामाबाद. इमरान खान ने कहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से उनका कोई बैर नहीं है, और वो इलाज के लिए विदेश जा सकते हैं। अपनी पार्टी तहरीक-ए-इंसाफ की एक मीटिंग के दौरान प्रधानमंत्री इमरान ने कहा कि उनके लिए सियासत से ज्यादा अहम नवाज की सेहत है। हालांकि, उनके ही गृह मंत्रालय ने अब तक नवाज का नाम उस सूची से नहीं हटाया है, जिनके देश छोड़ने पर प्रतिबंध है। इतना ही नहीं, इसी मंत्रालय ने बुधवार को साफ कर दिया था कि नवाज अगर विदेश जाना चाहते हैं तो उन्हें 700 करोड़ पाकिस्तानी रुपए का बॉन्ड भरना होगा।

शहबाज की सरकार को चेतावनी
शुक्रवार को नवाज के भाई और पाकिस्तान मुस्लिम लीग के अध्यक्ष शहबाज शरीफ ने सरकार को चेतावनी दी। उन्होंने कहा- अगर मेरे भाई और पूर्व प्रधानमंत्री के साथ कुछ अनहोनी होती है तो इसके जिम्मेदार इमरान खान होंगे। शहबाज के मुताबिक, सरकार जानबूझकर नवाज का नाम प्रतिबंधित सूची से नहीं हटा रही है और इमरान के इशारे पर मामले को टाला जा रहा है।

कोर्ट जाए शरीफ परिवार
इमरान ने पीटीआई की मीटिंग में ये भी कहा कि नवाज के परिवार को अगर सरकार से कोई दिक्कत है तो वो कोर्ट जा सकता है। प्रधानमंत्री के मुताबिक, “मानवीय आधार पर शरीफ की हरसंभव सहायता की जा रही है। लेकिन, कानूनी प्रक्रियाएं भी हैं। लिहाजा, उनका पालन भी जरूरी है।” गृह मंत्रालय ने बुधवार को कहा था कि नवाज को कुछ शर्तों के आधार पर सिर्फ एक बार विदेश यात्रा की मंजूरी दी जा सकती है। यह चार हफ्तों के लिए होगी। इसके लिए उन्हें 700 करोड़ पाकिस्तानी रुपए का बॉन्ड भरना होगा। शरीफ परिवार ने दोनों शर्तों को मानने से इनकार कर दिया और कोर्ट में याचिका दाखिल की। नवाज को रविवार को ही विदेश जाना है लेकिन प्रतिबंधित सूची से नाम न हटने की वजह से उनका टिकट रद्द करा दिया गया।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


इमरान खान ने कहा है कि उनके लिए सियासत से ज्यादा जरूरी नवाज शरीफ की सेहत है। (फाइल)