कामरान अकमल का पूर्व हेड कोच इंजमाम पर तंज; कहा- चैम्पियंस ट्राफी जिताने के अलावा उन्होंने किया क्या



खेल डेस्क. पाकिस्तान के विकेटकीपर-बल्लेबाज कामरान अकमल ने इंजमाम-उल-हक की अध्यक्षता वाली पूर्व चयन समिति की आलोचना की है। अकमल के मुताबिक, इंजमाम के दौर में चयन का आधार व्यक्तिगत पसंद-नापसंद होती थी। घरेलू क्रिकेट में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे कामरान ने कहा कि पूर्व चयन समिति ने पांच साल में सिर्फ चैम्पियंस ट्रॉफी जीतने वाली टीम ही चुनी। इसमें भी चयन से ज्यादा बड़ी बात हालात का पक्ष में होना था। बता दें कि सितंबर में इंजमाम ने मुख्य चयनकर्ता पद से इस्तीफा दिया था। अब मिस्बाह उल हक चीफ सिलेक्टर और हेड कोच हैं।

घरेलू क्रिकेट को तवज्जो नहीं दी
पाकिस्तान के एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में कामरान ने कई बातों को जिक्र किया। एक सवाल के जवाब में कहा, “मैं नए टीम मैनेजमेंट के बारे में ज्यादा नहीं जानता। लेकिन, इसके पहले जो मैनेजमेंट था, उसको भूल जाना ही बेहतर होगा। उस दौर में सिर्फ उनके पसंदीदा खिलाड़ियों को टीम में जगह मिलती थी।” कामरान ने घरेलू क्रिकेट में रविवार को ही 13 हजार रन पूरे किए हैं। सिंध के खिलाफ उन्होंने कायदे आजम ट्रॉफी में 59 रन की तेज पारी खेली।

इफ्तिखार को पहले मौका क्यों नहीं दिया
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 सीरीज के दोनों मैचों में युवा बल्लेबाज इफ्तिखार अहमद ने शानदार बल्लेबाजी की। कामरान ने मिकी आर्थर और इंजमाम दोनों पर सवाल उठाए। कहा- ये तो पूछना ही होगा कि अहमद को पहले मौका क्यों नहीं दिया गया जबकि वो घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन कर रहा था। सच्चाई ये है कि हमारे कई युवा क्रिकेटर उस दौर में अच्छा खेल रहे थे लेकिन उन्हें कभी राष्ट्रीय टीम में खेलने का मौका नहीं मिला। उस दौर के जिम्मेदार लोगों ने सिर्फ एक चैम्पियंस ट्रॉफी जिताई? आज भी वो उसका ही गुणगान करते रहते हैं। इसके अलावा एक सफलता हो तो बताइए? कब तक हम चैम्पियंस ट्रॉफी के बारे में सुनते रहेंगे। 37 साल के कामरान ने पाकिस्तान के लिए 53 टेस्ट, 157 वनडे और 58 टी20 खेले हैं। ऑर्थर और इंजमाम ने अकमल की उम्र ज्यादा मानते हुए अपने दौर में उन्हें टीम में नहीं चुना।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


बाबर आजम को बल्लेबाजी के टिप्स देते पाकिस्तान के पूर्व चीफ सिलेक्टर और कप्तान इंजमाम उल हक। (फाइल)