शमी ने कहा- लैंथ में बदलाव से बल्लेबाजों को परेशान करता हूं; गंभीर बोले- भारत के पास 8 खतरनाक गेंदबाज



खेल डेस्क. टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी का कहना है कि वो कोलकाता डे-नाइट टेस्ट में भी अपनी बॉलिंग लैंथ बदलते रहेंगे। शमी के मुताबिक, इसका फायदा ये होता है कि बल्लेबाज ज्यादातर वक्त अनुमान ही लगाता रहता है और इसकी वजह से वो असहज हो जाता है। बांग्लादेश के खिलाफ इंदौर टेस्ट में शमी ने 7 विकेट लिए थे। दूसरी तरफ, पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने टीम इंडिया के गेंदबाजी आक्रमण की दिल खोलकर तारीफ की। गंभीर ने कहा- हमारे पास एक दो नहीं बल्कि 8 विश्व स्तरीय गेंदबाज हैं।

विकेट का मिजाज भांपना जरूरी
टीम शुक्रवार से बांग्लादेश के खिलाफ कोलकाता के ईडन गार्डन्स स्टेडियम में दूसरा टेस्ट खेलेगी। यह डे-नाइट मुकाबला होगा और इसमें गुलाबी गेंद इस्तेमाल की जाएगी। इसके पहले एक टीवी कार्यक्रम में वर्तमान और पूर्व भारतीय खिलाड़ियों ने टीम के प्रदर्शन पर चर्चा की। शमी ने अपनी गेंदबाजी पर कहा, “एक गेंदबाज के तौर पर हमें विकेट के मिजाज को भांपना जरूरी होता है। इसके हिसाब से लैंथ में बदलाव करना होता है। इससे बल्लेबाज असहज महसूस करता है।” सुनील गावस्कर ने मयंक अग्रवाल पर चर्चा की। कहा, “उनका ये साल अच्छा रहा। लेकिन, अगले साल उन्हें चौकन्ना रहना होगा। क्योंकि, तब विरोधी टीमों के पास उनका काफी डाटा होगा। वो सीधे बल्ले से खेलते हैं और उनका फुटवर्क भी बेहतरीन है। लिहाजा, पूरी उम्मीद है कि कामयाबी का सिलसिला जारी रहेगा।”

गंभीर ने बताई गेंदबाजी आक्रमण की विशेषता
टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने टीम इंडिया की गेंदबाजी पर रोशनी डाली। गौतम ने कहा, “आप दूसरी टीमों पर नजर डालिए। किसी के पास अच्छे तेज तो किसी के पास बेहतर स्पिनर हैं। हमारा मामला अलग है। हमारे पास तीन बेहतरीन तेज गेंदबाज खेल रहे हैं। जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर अभी बाहर हैं। रविंद्र जडेजा और अश्विन दो विश्व स्तरीय स्पिनर हैं। जबकि कुलदीप जैसा शानदार गेंदबाज भी बाहर है। कुल मिलाकर 8 गेंदबाजों का बेहतरीन अटैक है। यही वजह है कि दो साल से टीम इंडिया विरोधी टीम को ऑल आउट कर देती है।”

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


इंदौर टेस्ट के दौरान शमी के साथ उमेश और इशांत।