दिल्ली में 22 साल में सबसे ठंडा रहा दिन, दिन का पारा सामान्य से 10 डिग्री नीचे 12.2 डिग्री



नई दिल्ली .दिल्ली-एनसीआर में मंगलवार को ना सिर्फ सीजन का सबसे ठंडा दिन बल्कि लगातार दूसरे दिन सीवियर कोल्ड डे रहा। दिन का अधिकतम तापमान सामान्य से 10 डिग्री नीचे 12.2 डिग्री दर्ज किया गया जो मंगलवार को 12.9 डिग्री था। पूरे उत्तर भारत के मैदानी इलाकों की बात करें तो यूपी का बरेली 12.1 डिग्री, एनसीआर में गुड़गांव 12 डिग्री ही दिल्ली से ठंडा है। हालांकि दिल्ली में जाफरपुर, मंगेशपुर, जाफरपुर और पूसा में तापमान 11 से 12 डिग्री के बीच रहा है।

मौसम विभाग के आंकड़े बताते हैं कि 1973 से अभी तक के उपलब्ध डाटा के हिसाब से सिर्फ दो बार दिन का अधिकतम तापमान मंगलवार के तापमान से नीचे 28 दिसंबर 1997 और 1973 में 11.3 डिग्री दर्ज किया गया है।मौसम वैज्ञानिक आर.के. जेनामणि के अनुसार दिल्ली-एनसीआर के साथ पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, वेस्ट यूपी और नार्थ राजस्थान के अलावा वेस्ट एमपी के कुछ हिस्से ईस्ट यूपी और ईस्ट एमपी में कहीं-कहीं, जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में भी सर्द दिन रहा। दिल्ली में 22 साल में सबसे ठंडा दिन रहा।

65 घंटे से दिन और रात का तापमान करीब-करीब एक जैसा

दिल्ली में 15 दिसंबर की शाम से गिरा तापमान 18 दिन की दोपहर तक करीब-करीब एक समान ही रहेगा। दिन और रात के तापमान का अंदर महज 1.8 डिग्री रहा है (अधिकतम तापमान 12.2 डिग्री व न्यूनतम तापमान 10.4 डिग्री) जो मंगलवार को 2.7 डिग्री अंतर था। इसकी वजह से ठंड और ज्यादा महसूस की गई।

कोहरे की चादर और नीचे तेज हवा ने बनाया सीवियर कोल्ड डे

डॉ. आर.के. जेनामणि बताते हैं कि सीवियर कोल्ड डे इसलिए है क्योंकि 500-1000 मीटर की ऊंचाई पर दिल्ली-एनसीआर सहित पूरे उत्तर पश्चिम भारत में कोहरे की घनी चादर है। ये चादर जमीन पर सूरज की रोशनी नहीं आने दे रही है। मौसम की भविष्यवाणी करने वाले वेबसाइट के वैज्ञानिक महेश पलावत बताते हैं कि निचले स्तर पर हवा तेज है जिसकी वजह से कोहरे नीचे साफ है और ऊपर परत बना रहा है।

आगे क्या| 20-21 दिसंबर को हल्की बारिश की संभावना
मौसम विभाग के अनुसार 18-19 दिसंबर को भी सीवियर कोल्ड डे और कोल्ड डे ही रहेगा। बुधवार को अधिकतम तापमान 14 डिग्री व 15 डिग्री और न्यूनतम तापमान 9 डिग्री रहने की संभावना है। इस दौरान उत्तर पश्चिमी हवा पहाड़ों से आएगी। फिर 20-21 दिसंबर को हवा की स्पीड थोड़ी बढ़ेगी और बहुत हल्की बारिश की संभावना है। 20 दिसंबर से 23 दिसंबर के बीच अधिकतम तापमान 17-18 डिग्री व न्यूनतम तापमान 8-9 डिग्री रहने की संभावना है।

क्या होता है कोल्ड डे और सीवियर कोल्ड डे
मौसम विभाग के किसी भी केंद्र पर न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से ऊपर हो और दिन का अधिकतम तापमान औसत से 6.5 डिग्री या उससे ज्यादा नीचे रहता है तो उसे सीवियर कोल्ड डे की श्रेणी में रखा जाता है। अभी औसत से 10 डिग्री नीचे चल रहा है। इसी तरह दिन का अधिकतम तापमान अगर औसत से 4.5 डिग्री से 6.4 डिग्री तक नीचे हो तो कोल्ड डे यानी सर्द दिन घोषित किया जाता है।

ऐसे बना सीवियर कोल्ड डे

500 -1000 मीटर की ऊंचाई पर दिल्ली-एनसीआर सहित पूरे उत्तर पश्चिम भारत में कोहरे की घनी चादर है, ये चादर जमीन पर सूरज की रोशनी नहीं आने दे रही है।

दिल्ली-गुड़गांव में हवा मॉडरेट श्रेणी में आई
दिल्ली-एनसीआर में हवा मंगलवार को करीब-करीब साफ रही। सोमवार के मुकाबले सभी केंद्रों पर प्रदूषण के स्तर में गिरावट देखने को मिली। दिल्ली में 168, फरीदाबाद में 165 और गुड़गांव में 106 एक्यूआई के साथ हवा मॉडरेट श्रेणी में रही। गाजियाबाद में 238, ग्रेटर नोएडा में 228 और नोएडा में 211 एक्यूआई के साथ वहां की हवा खराब श्रेणी में दर्ज की गई।

19 दिसंबर को हवा की स्पीड घटेगी

प्रदूषण की भविष्यवाणी करने वाली एजेंसी सफर के अनुसार 18 दिसंबर से हवा में प्रदूषण का स्तर मंगलवार की तरह ही रहेगा। 19 दिसंबर को हवा की स्पीड घटेगी। फिर 20 दिसंबर को हवा बहुत खराब श्रेणी में पहुंच जाएगी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


अधिकतम तापमान सामान्य से 10 डिग्री नीचे 12.2 डिग्री दर्ज किया गया ।


उत्तर भारत के मैदानी इलाकों की बात करें तो यूपी का बरेली सबसे ठंडा रहा।