पीसीबी ने कहा- अगर भारत एशिया कप खेलने पाकिस्तान नहीं आएगा, तो हम टी-20 वर्ल्ड कप खेलने वहां नहीं जाएंगे



खेल डेस्क. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) शनिवार को कहा कि अगर भारत एशिया कप खेलने हमारे यहां नहीं आता है तो हम भी टी-20 वर्ल्ड कप खेलने उनके यहां नहीं जाएंगे। 2021 में भारत टी-20 वर्ल्ड कप की मेजबानी करेगा। वहीं, इस साल सितंबर में एशिया कप टी-20 पाकिस्तान में होना है। पीसीबी के सीईओ वसीम खान ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने इस अफवाह को भी खारिज किया कि पीसीबी ने बांग्लादेश टीम को पाकिस्तान में खेलने के बदले में एशिया कप की मेजबानी सौंप दी है।

वसीम ने कहा, ‘‘एशियाई क्रिकेट परिषद (एसीसी) द्वारा हमें मेजबानी का अधिकार दिया गया है। हम उन्हें किसी को नहीं सौंप सकते। हमारे पास वह अधिकार नहीं है।’’

‘एशिया कप की मेजबानी के लिए पीसीबी दो अन्य स्थानों पर विचार कर रहा’
वसीम ने यह भी कहा कि भारत के साथ तनाव के कारण एशिया कप की मेजबानी के लिए पाकिस्तान दो अन्य स्थानों पर भी विचार कर रहा है। टीम इंडिया 2008 से पाकिस्तान के दौरे पर नहीं गई है। वहीं, पाकिस्तान की टीम 2012 के बाद भारत नहीं आई। क्रिकेट एक्सपर्ट का मानना है कि पाकिस्तान में एशिया कप की मेजबानी के लिए पीसीबी के पास यह सबसे बड़ी बाधा होगी कि क्या भारत सुरक्षा कारणों से वहां खेलने के लिए सहमता होगा।

आईसीसी के मुख्य कार्यकारी इस्लामाबाद और लाहौर का दौरा करेंगे
वसीम खान ने आगे कहा, ‘‘क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका का एक सुरक्षा प्रतिनिधि दल फरवरी में सुरक्षा स्थिति का जायजा लेने के लिए पाकिस्तान का दौरा करेगा। पीसीबी ने मार्च-अप्रैल में दक्षिण अफ्रीका को 3 टी-20 की सीरीज के लिए पाकिस्तान बुलाया है। यह सीरीज पाकिस्तान सुपर लीग के बाद हो सकता है। आईसीसी के मुख्य कार्यकारी मनु साहनी अगले सप्ताह इस्लामाबाद और लाहौर का दौर करेंगे। इस दौरान पीसीबी 2023 से 2031 के बाद कम से कम तीन आईसीसी इवेंट्स की मेजबानी के अधिकार हासिल करने की कोशिश करेगा।’’

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के सीईओ वसीम खान और बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली।