बलाचौर में शराब तस्करी न रुकी तो थाने को ताला लगा चाबियां डीजीपी को देंगे: मंगूपुर





बलाचौर में अवैध शराब तस्करी बड़ा मुद्दा बन गया है। अब तक तो सिर्फ विपक्ष ही बलाचौर में नाजायज शराब तस्करों पर सवाल करती रही है, लेकिन रविवार को तो बलाचौर से कांग्रेसी विधायक चौधरी दर्शन लाल मंगूपुर के बेटे अजय मंगूपुर ने भी बलाचौर में नाजायज शराब तस्करी की बात कह डाली। अजय मंगूपुर की ओर से बलाचौर में अवैध शराब तस्करी का वीडियो क्या शेयर किया गया कि विपक्ष ने इस मुद्दे को उठाने में बिल्कुल भी देरी नहीं की। मंगूपुर के बयान के बाद अकाली नेता एडवोकेट राजविंदर लक्की ने अजय पर ही शराब तस्करों को संरक्षण देने की बात कह डाली। विधायक के बेटे की ओर से इस तरह के बयान जारी किए जाने के बाद हर तरफ इसकी ही चर्चा छिड़ गई।

चलो मंगूपुर ने अवैध शराब की बात तो मानी : लक्की

उधर, कांग्रेसी नेता अजय मंगूपुर की ओर से जारी किए गए बयान पर पलटवार करते हुए सीनियर अकाली नेता एडवोकेट राजविंदर लक्की ने कहा कि बलाचौर में अवैध शराब, माइनिंग और खैर माफिया की बात वे पिछले लंबे समय से करते आ रहे हैं। चलो अब अजय मंगूपुर ने अवैध शराब की बात तो मान ली। आने वाले दिनों में वे खैर माफिया और माइनिंग की बात भी मान लेंगे। लक्की ने कहा कि अजय मंगूपुर की ओर से अब जो कहा जा रहा है, वह मात्र ड्रामा है। अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने के लिए ही इस तरह की बातें की जा रही हैं। लोगों ने जब सवाल करने शुरू कर दिए तो जबाव न देने की बजाए पुलिस पर आरोप लगाने शुरू कर दिए गए हैं। बलाचौर में थाना इंचार्ज और डीएसपी उनकी मर्जी के लगते हैं तथा आरोप सीनियर अधिकारियों पर लगाना समझ से बाहर है।

मंगूपुर का आरोप…जिला स्तर के अफसर तस्करों के साथ मिले हुए

विधायक के बेटे अजय मंगूपुर ने जारी बयान में कहा कि वे बलाचौर की एक गंभीर समस्या सांझी करना चाहते हैं। तीन वर्ष पहले बलाचौर के लोगों ने उन्हें जिम्मेदारी दी थी और वे भी बलाचौर का पूर्ण विकास करना चाहते थे। इसके चलते इलाके में फैले हुए नशे को पूरी तरह से बंद करने का संकल्प लिया था। देखने में आ रहा है कि सिंथेटिक ड्रग (चिट्टा) तो खत्म हो गया है, लेकिन नाजायज शराब पर अभी कोई कंट्रोल नहीं हो रहा है। नाजायज शराब हलके में काफी बिक रही है। इस मामले में वे अधिकारियों से कई बार मिल चुके हैं। उन्होंने कहा कि कहीं न कहीं उन्हें लग रहा है कि जिला स्तर के अधिकारी या अन्य अधिकारी इन नाजायज तस्करों के साथ मिले हुए हैं। वे एक सप्ताह का टाइम देते हैं, अगर तब तक कोई ठोस कार्रवाई न हुई तो वे बलाचौर थाने को ताला लगाकर उसकी चाबियां डीजीपी को सौंपेंगे। उन्होंने कहा कि थाना करना ही क्या है, अगर नशा बंद नहीं करना। उन्होंने कहा कि जिला पुलिस प्रमुख के पास खुफिया तंत्र है और ऐसे में तस्करों के बारे में उन्हें पता होना चाहिए।

अलका मीणा

राजविंदर लक्की

अजय मंगूपुर

इधर…एसएसपी बोलीं

मंगूपुर जिम्मेदार व्यक्ति उनका थाने को ताले लगाने का बयान समझ से परे

इस मामले में एसएसपी अलका मीणा ने कहा कि अजय मंगूपुर द्वारा इस तरह का बयान देना उनकी समझ से परे है। अजय मंगूपुर एक जिम्मेदार नागरिक हैं और थाने को ताला लगवाने वाली बात सही नहीं है। उन्होंने कहा कि पुलिस की ओर से हमेशा ही तस्करों के खिलाफ कार्रवाई की जाती रही है और आगे भी की जाती रहेगी।

हिस्सेदारी न बढ़ने पर हो रहा ड्रामा

अकाली बोले

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Nawanshahr News – if liquor smuggling is not stopped in balachaur then lock the police station and give the keys to dgp mangupur


Nawanshahr News – if liquor smuggling is not stopped in balachaur then lock the police station and give the keys to dgp mangupur


Nawanshahr News – if liquor smuggling is not stopped in balachaur then lock the police station and give the keys to dgp mangupur