युवाओं को हिंदू संस्कृति से जोड़ने की जरूरत





राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) की ओर से राष्ट्रीय शक्ति दर्शन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। श्री गुरु हरकिशन पब्लिक स्कूल में आयोजित कार्यक्रम में स्वदेशी जागरण मंच के अखिल भारतीय संगठन मंत्री कश्मीरी लाल मुख्य वक्ता थे, जबकि समाज सेवक सतीश महेंद्रू विशेष अतिथि के तौर पर उपस्थित हुए। इस मौके पर संघ संस्थापक डाॅ. केशव बलिराम हेडगेवार के जीवन पर प्रकाश डालने के साथ उनसे प्रेरणा लेने का आह्वान किया गया। इस मौके पर स्वयं सेवकों ने सूर्य नमस्कार, घोष और प्रदक्षिणा समेत योग क्रियाओं का प्रदर्शन किया।

कश्मीरी लाल ने कहा कि आजादी से लेकर इमरजेंसी और देश के विकास में संघ का अहम रोल रहा है। देश का इतिहास गलत लिखा है, उसे ठीक करने का काम इतिहास संकल्प समिति कर रही है। देश के नौजवानों को संस्कारित करने की जरूरत है। कहा कि गांवों में स्कूटरों पर भुक्की व चिट्टा की बिक्री हो रही है। उन्होंने देश को बचाने के लिए चीन के इतिहास से ज्ञान लेने की सलाह दी व कहा कि चीन को गुलामी के बाद अब वर्तमान स्थिति पर आने के लिए 100 साल से ज्यादा का समय लग गया। उन्होंने कहा कि पश्चिमी त्यौहारों ने हिंदू त्यौहारों का बेड़ा गर्ग कर दिया है, इसलिए नौजवानों को हिंदू संस्कृति से जोड़ने की जरूरत है। सतीश महेंद्रू ने कहा कि प्यार, समर्पण और अपने आप को अनुशासित रखना संघ सीखता है। संघ ने देश की संस्कृति और सभ्यता को एक लड़ी में पिरो कर रखा है। जिला संघ चालक प्रेम डोगरा ने सबका धन्यवाद किया। पठानकोट विभाग संघ चालक रमेश कुमार ने विचार रखे।

राष्ट्रीय शक्ति दर्शन कार्यक्रम घोष के दौरान प्रदर्शन करते स्वयं सेवक।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Pathankot News – need to connect youth with hindu culture