शूटिंग के आरोपी की उम्र का पता लगाएगी दिल्ली पुलिस, हडि्डयों की जांच करवाने की अनुमति मांगी



नई दिल्ली.दिल्ली पुलिस जामिया के पास गुरुवार को गोली चलाने के आरोपीकी सही उम्र का पता लगाएगी। उसके नाबालिग होने का दावा किए जाने के बीच पुलिस ने यह निर्णय लिया है। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने शुक्रवार को उसके हडि्डयों की जांच (ओसिफिकेशन टेस्ट) की अनुमति देने के लिए आवेदन दिया। इससे उसके वास्तविक उम्र की पुष्टि की जा सकेगी। पुलिस ने शुक्रवार को उसे जुवेनाइल कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे 14 दिन की हिरासत में भेज दिया गया।

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ जामिया मिल्लिया इस्लामिया के बाहर रैली से पहले गुरुवार को आरोपीने फायरिंग की थी। इसमें जामिया का एक छात्र घायल हुआ था। पुलिस ने उसे मौके से ही गिरफ्तार कर लिया था।आरोपी उत्तरप्रदेश के जेवर का रहने वाला है।

न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में आरोपी पर दर्ज हुए मामले

इस मामले की जांच दिल्ली के विशेष पुलिस आयुक्त प्रवीर रंजन को सौंपी गई है।दिल्ली के न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी थाने में आरोपी केखिलाफ आईपीसी की धारा 307 और आर्म्स एक्ट की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस ने आरोपी की जांच के लिए राम मनोहर लोहिया अस्पताल से संपर्क किया है। उसके उम्र से जुड़ी जांचों के लिए जल्द ही एक मेडिकल बोर्ड गठित किया जाएगा।

आरोपी के स्कूल के मैनेजर ने किया उसके नाबालिग होने का दावा

आरोपीउत्तरप्रदेश के जेवर स्थित एक स्कूल में बारहवीं का छात्र है। स्कूल के मैनेजर नरेंद्र शर्मा ने मार्कशीट के आधार पर उसके नाबालिग होने का दावा किया। उन्होंने कहा कि उसकी मार्कशीट बिल्कुल सही है। उसने 2018 में सीबीएसई से 10 वीं की परीक्षा पास की थी। वह नाबालिग है,उसकी जन्मतिथि 2 अप्रैल 2002 है। मैनेजर ने कहा कि आरोपी ने 2013 में स्कूल में दाखिला लिया था।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


आरोपी को पुलिस ने गुरुवार को फायरिंग करने के बाद गिरफ्तार कर लिया था।